कितने दिन मनाई जाती है दिवाली …

दिवाली रोशनी का त्योहार होता है, जो बुराई पर अच्छाई और अज्ञानता पर ज्ञान की जीत का उत्सव मनाता है। वैसे तो यह त्योहार पूरा देश मनाता है लेकिन इसे मुख्य रूप से हिन्दू, सिख और जैन धर्म के लोग मनाते हैं। दिवाली शब्द संस्कृत भाषा से आया है, जिसका मतलब होता है ‘रोशनी ही रोशनी’।

यह दिन धन की देवी लक्ष्मी और राम व सीता की कथा के सम्मान में मनाया जाता है। इस दिन सभी लोग अपने घर की साफ सफाई कर उसे दियों, लाइट्स और रंगोली से सजाते हैं। साथ ही पटाखे जलाना, परिवार से मिलना और रिश्तेदारों व दोस्तों में तोफे बांटना इस त्योहार का हिस्सा है।

दिवाली, रोशनी का पांच दिन चलने वाला त्योहार होता है। इस उत्सव को खुशी, क्षमा, ज्ञान, धन की देवी, लक्ष्मी, राम और सीता की कहानी जैसे कई तरह की विषयों के लिए मनाया जाता है। अगर कम शब्दों में कहें तो ये त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत के लिए मनाया जाता है।

ये त्योहार अक्सर अक्टूबर या नवंबर के महीने में आता है। इसकी तारीख चंद्रमा पर निर्भर करती है, यानी हिन्दू कैलेंडर के मुताबिक ये कार्तिक महीने की 15वीं तारीख को होती है। इस बार दिवाली 27 अक्टूबर को पड़ रही है। वहीं, ये त्योहार 5 दिन मनाया जाता है। जिसमें तीसरे दिन दिवाली होती है। हालांकि, हर दिन का अपना एक खास महत्व है।

Archana Tiwari…